2 Line Hindi Shayari

निगाहों में मंजिल थी,

निगाहों में मंजिल थी, गिरे और गिर के सँभलते रहे। हवाओं ने बहुत कोशिश की, मगर चिराग आँधियों में भी जलते रहे।

आज तेरे लिए वक्त का इशारा है,

आज तेरे लिए वक्त का इशारा है, देखता ये जहां सारा है, फिर भी तुझे रास्तों की तलाश है, आज फिर तुझे मंज़िलो ने पुकारा है।

शमा परवाने को जलाना सिखाती है,

शमा परवाने को जलाना सिखाती है, शाम सूरज को ढलना सिखाती है, मुसाफिर को ठोकरों से होती तो हैं तकलीफें, लेकिन ठोकरें ही एक मुसाफिर को चलना सिखाती हैं।

फ़िक्र मत कर बन्दे कलम कुदरत के हाथ है,

फ़िक्र मत कर बन्दे कलम कुदरत के हाथ है, लिखने वाले ने लिख दिया किस्मत तेरे साथ है, फ़िक्र करता है क्यों, से होता है क्या, रख भगवान पे भरोसा देख फिर होता है क्या।

इन निगाहों में मन्ज़िले हैं,

इन निगाहों में मन्ज़िले हैं, सामने कठिन रास्ते हैं बहुत, लेकिन मैं हर मुश्किल से उलझ गया, और मैं सबसे आगे निकल गया।

रास्तों में मुश्किलें आऐ,

रास्तों में मुश्किलें आऐ, तो हिम्मत और बढ़ती है कोई अगर रास्ता रोके, तो जुर्रत और बढ़ती है, अ���र बिकने पे आ जाओ, तो घट जाते है दाम अक्सर, ना बिकने का इरादा हो तो,… Read More »रास्तों में मुश्किलें आऐ,

गम के अँधेरे में, दिल को बेक़रार कर।

गम के अँधेरे में, दिल को बेक़रार कर। सुबह जरुर होगी मेरे दोस्त, थोडा तो इंतज़ार कर। दुःख – सुख की धुप छाँव से आगे निकल गए, हम खवाहिशो के गावं से आगे निकल गए।

संघर्ष में आदमी अकेला होता है,

संघर्ष में आदमी अकेला होता है, सफलता में दुनिया उसके साथ होती है, जब-जब जग किसी पर हँसा है, तब-तब उसी ने इतिहास रचा है।

बुलंद हो होंसला तो मुट्ठी में हर मुकाम है,

बुलंद हो होंसला तो मुट्ठी में हर मुकाम है, मुश्किले और मुसीबते तो ज़िंदगी में आम हैं, ज़िंदा हो तो ताकत रखो बाज़ुओ में तैरने की, क्योकि लहरो के साथ बहना तो लाशो का काम… Read More »बुलंद हो होंसला तो मुट्ठी में हर मुकाम है,